Breaking News
Home / Banner / सराहनीय पहल: वैवाहिक वर्षगांठ पर दंपत्ति ने मिलकर कुछ अच्छा करने पर किया विचार

सराहनीय पहल: वैवाहिक वर्षगांठ पर दंपत्ति ने मिलकर कुछ अच्छा करने पर किया विचार

 *प्रकृति का ऋण चुकाने के लिये 5100 पौधे लगाकर उन्हें संरक्षित करने का लिया संकल्प*
*कोरोना काल में भी गत वर्ष समाजसेवी कमलजीत कर चुके हैं 150 परिवारों की मदद*

धौलपुर। समाज में हर इंसान के सोचने समझने और उस पर गंभीरता के साथ कार्य करने का नजरिया अपना-अपना होता है, कुछ सोच सकारात्मक और आने वाले कल को सुखमय करने के लिए होती है तो कई जाने अनजाने में अपने ही जीवन के साथ अनजान बन खिलवाड़ करते देखे जा सकते हैं।
 कोरोना की आपदा ने हालांकि सकारात्मक सोच के प्रति लापरवाह रहने वालों को भी अब सोचने को विवश तो किया है। स्वयं इंसान ने प्रकृति के प्राकृतिक स्रोतों एवं  संसाधनों के साथ खिलवाड़ कर मानव जीवन के अस्तित्व को ही संकट में डाल दिया, लेकिन अब उसे अपनी लापरवाही का एहसास भी होने लगा है। सकारात्मक सोच रखने वाले प्रकृति प्रेमियों की बदौलत ही आज हम अपनी इन्हीं लापरवाही के प्रति सजग हुए हैं।
 ऐसे ही सकारात्मक सोच रखने वाले अपने शहर के प्रकृति प्रेमी समाजसेवी कमलजीत सिंह ने कोरोना आपदा के दौरान विगत दिनों अपने वैवाहिक जीवन की वर्षगांठ को पूर्ण सादगी से मनाते हुए घर में बैठ पति- पत्नी ने विचार किया कि हमें दूषित पर्यावरण को बचाने के लिए ज्यादा से ज्यादा पेड़ पौधे लगाने चाहिए और इसमें क्यों ना हम भी भागीदार बनें।
 कमलजीत दंपत्ति इस विचार को लेकर अपने छोटे भाई रुपी मित्र अजय अग्रवाल से साझा किया तो अजय ने भी इसे नेक कार्य बता उनकी सोच की प्रशंसा की। पति-पत्नी विगत कुछ दिनों से इसे साकार करने के गहन मंथन में लगे हुऐ थे। रीयल इस्टेट के कारोबारी कमलजीत सिंह एक समाजसेवी के रूप में समय-समय पर जरूरतमंद लोगों के लिए समाचार पत्रों की सुर्खियां बने बिना कुछ ना कुछ करते रहते हैं। गत वर्ष कोरोना आपदा की शुरुआत में मजदूरों और गरीबों के लिए एक्सप्रेस क्लब संस्था के माध्यम से स्वयं की ओर से लगभग 3 माह तक 150 परिवारों को राशन किट,मास्क एवं सेनेटाईजर आदि उपलब्ध कराकर उनके मददगार भी बनें थे।
 गत दिन विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर मंजरी एवं लूपिन फाउंडेशन की सहभागिता से एक्सप्रेस क्लब द्वारा आयोजित संरक्षित वृक्षारोपण कार्यक्रम में पहुंचे कमलजीत सिंह को जब यह मालूम पड़ा कि वर्ष भर अभियान के रूप में क्लब की ओर से जिले भर में 11 हजार पौधों का वृक्षारोपण कर उन्हें सामूहिक सहभागिता से संरक्षित रखने का निर्णय लिया है।
 बस फिर क्या था, क्लब के सदस्य होने के नाते भी मानो समाजसेवी कमलजीत सिंह को मन मांगी मुराद ही मिल गई। उन्होंने तुरंत ही आग्रहपूर्वक विवाह की वर्षगांठ पर पत्नी के साथ साझा किए विचारों से क्लब के सदस्यों को अवगत कराया।
 इतना ही नहीं बातचीत चल ही रही थी कमलजीत ने अपने खर्चे पर इक्यावन सौ वृक्षों को लगाने और उन्हें संरक्षित करने की इच्छा जताई। उनके इस नेक कार्य पर एक्सप्रेस क्लब के सभी सदस्यों ने खुशी व्यक्त करते हुए सहमति जताई। क्लब के अध्यक्ष एडवोकेट अतुल कुमार भार्गव सहित अन्य पदाधिकारी संजीव श्रीवास्तव, जितेंद्र सिंह रजौरिया, सोमेंद्र तिवारी,मनोज राना आदि ने संकल्प स्वरूप उन्हें एक पेड़ भी भेंट किया। समाजसेवी कमलजीत सिंह के इस संकल्प को लेने पर सभी उनकी इस पहल से अभिभूत थे कि उनके विचार और प्रकृति के प्रति लगाव सभी के लिये अनुकरणीय बनेगा। ऐसी सोच को युवा पीढ़ी में विकसित कर हम प्रकृति की अमूल्य धरोहर को और अधिक संरक्षित कर सकते हैं।



About admin

Check Also

अनुपयोगी वस्तुओं के प्रबन्धन पर कार्यशाला आयोजित की गयी

रिपोर्ट;-अंकुर त्रिपाठी जिला संवाददाता इटावा इकदिल, इटावा- कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्रालय भारत सरकार नई …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *