Breaking News
Home / Banner / सफाईकर्मी और डॉक्टर को कोविशील्ड वैक्सीन लगाकर होगी कोविड-19 टीकाकरण की शुरुआत

सफाईकर्मी और डॉक्टर को कोविशील्ड वैक्सीन लगाकर होगी कोविड-19 टीकाकरण की शुरुआत

परानिधेश भारद्वाज / पंकज द्विवेदी

मध्यप्रदेश के भिंड जिले में गुरुवार शाम को कोवीसील्ड वैक्सीन की पहली खेप पहुंच गई। पहली खेप में कुल 7910 डोज जिला अस्पताल पहुंचे, जिसका जिला मुख्यालय से 8 किलोमीटर पहले ही सीएमएचओ डॉ अजीत मिश्रा एवं जिला वैक्सीन अधिकारी पवन जैन के साथ ही डॉक्टरों की अन्य टीम ने पहुंचकर वैक्सीन वेन को माला पहनाकर एवं वैक्सीन लाने वाले कर्मचारियों के साथ ही गार्ड्स को माला पहनाकर स्वागत किया गया। जिसके बाद शुक्रवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन जिला अस्पताल में किया गया। जिसमें सीएमएचओ डॉ अजीत मिश्रा ने बताया कि जिले में कुल 6000 से अधिक शासकीय एवं निजी हेल्थ वर्कर्स एवं आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को चिन्हित किया गया है। जिनको सबसे पहले टीका लगाया जायेगा। 16 जनवरी को पूरे देश के साथ ही जिला अस्पताल में भी 100 लोगों को कोवीशील्ड वैक्सीन का टीका लगाया जाएगा। जिसमें शासन के निर्देशानुसार पहला टीका स्वास्थ्य विभाग की सफाई कर्मी सोनम एवं जिला अस्पताल के डॉक्टर डॉ हिमांशु बंसल को लगाया जाएगा।

टीका लगने के बाद भी बरतें सावधानी

डॉ अजीत मिश्रा ने जानकारी देते हुए बताया की पहला टीका लगाए जाने के 28 दिन बाद इसका दूसरा टीका उसी व्यक्ति को लगाया जायेगा। लेकिन इसका ये मतलब नहीं है कि टीका लगते ही उस व्यक्ति के अंदर इम्युनिटी डेवलप हो जायेगी। और वह मास्क पहनना अथवा कोरोना गाइडलाइंस का पालन करना बंद कर देगा। उसे इनका लगातार पालन करना पड़ेगा। डॉक्टरों के अनुसार दूसरा टीका लगाए जाने के 14 दिन बाद ही व्यक्ति के अंदर इम्युनिटी पूर्ण रूप से डेवलप होगी। वहीं जिला टीकाकरण अधिकारी डॉक्टर पवन जैन ने जानकारी देते हुए बताया कि टीका लाने से उसको स्टोर करने तक कोल्ड चैन के प्रोटोकॉल का पूरी तरह पालन किया गया है और इसे लगाने के लिए भी जो प्रोटोकोल शासन द्वारा बताए गए हैं उन्हीं के अनुसार टीका लगाया जाएगा। टीकाकरण सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे तक होगा। उनके अनुसार एक बाउल में 10 टीके का डोज रहता है, ऐसे में टीका लगवाने वाले 10 लोगों के इकट्ठा होने के बाद ही टीका लगाया जाएगा। क्योंकि खुली हुई बाउल को 6 घंटे से ज्यादा नहीं रखा जा सकता।

About Unique Today

Check Also

राजेश दंडोतिया बने सीआईडी एआईजी जबलपुर

पुलिस महकमे में सिंघम के नाम से मशहूर राजेश दंडोतिया को मध्यप्रदेश शासन द्वारा जबलपुर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *