Breaking News
Home / Banner / पी.डी.एस. वितरण में किसी तरह की हेरा-फेरी बर्दाश्त नहीं की जायेगी – भारत भूषण आशू।

पी.डी.एस. वितरण में किसी तरह की हेरा-फेरी बर्दाश्त नहीं की जायेगी – भारत भूषण आशू।

रिपोर्ट:चंडीगढ़ संवाददाता
चंडीगढ़, 7 जुलाई
खाद्य सुरक्षा संबंधी मुख्यमंत्री पंजाब द्वारा गठित मंत्रियों के सलाहकार ग्रुप की मीटिंग आज यहाँ अनाज भवन सैक्टर 39 में हुई, जिसकी अध्यक्षता करते हुए खाद्य एवं सिविल सप्लाई मंत्री श्री भारत भूषण आशु ने बताया कि उनके ध्यान में आया है कि कुछ लोगों द्वारा गलत जानकारी देकर पी.डी.एस. (सार्वजनिक वितरण प्रणाली) योजना का लाभ लिया जा रहा है, जोकि सरकार के नियमों के विरूद्ध है।
उन्होंने कहा कि पी.डी.एस. वितरण में किसी तरह की हेरा-फेरी बर्दाश्त नहीं की जायेगी और इस प्रणाली में गड़बड़ी करने वाले डीपू होल्डर और इंस्पेक्टरों को बख़्शा नहीं जाएगा। इसके साथ ही गलत जानकारी देकर पी.डी.एस. योजना का लाभ लेने वाले लोगों के खिलाफ भी बनती कार्यवाही अमल में लाई जायेगी।
मीटिंग के दौरान उन्होंने बताया कि पंजाब सरकार द्वारा चिप वाला राशन कार्ड बनाकर देने की योजना अधीन राज्य में योग्य लाभार्थीयों के स्मार्ट राशन कार्ड (चिप वाला) बनाने संबंधी टैंडर प्रक्रिया मुकम्मल हो गई है और यह स्मार्ट कार्ड बनाने और इनके वितरण संबंधी प्रीकिया 30 सितम्बर, 2020 तक मुकम्मल कर ली जायेगी। इस मौके पर सलाहकार ग्रुप द्वारा स्मार्ट राशन कार्ड के डिजाइन को मंजूरी भी दी गई।
मीटिंग में कैबिनेट मंत्री श्री तृप्त राजिन्दर सिंह बाजवा, श्रीमती अरुणा चौधरी, श्री सुन्दर शाम अरोड़ा के अलावा विधायक प्रीतम सिंह कोटभाई, रजिन्दर सिंह, मदन लाल जलालपुर, कुलबीर सिंह जीरा, कुलजीत सिंह नागरा, दर्शन सिंह बराड़, बरिन्दर सिंह बाहड़ा, संजय तलवाऱ, कुलदीप सिंह वैद्य, हरप्रताप सिंह अजनाला, प्रमुख सचिव के सिवा प्रसाद खाद्य एवं सिविल सप्लाई, सामाजिक सुरक्षा महिला एवं बाल विकास विभाग से श्री दिपारवा लाकरा, श्रीमती अनिंदिता मित्रा डायरैक्टर खाद्य एवं सिविल सप्लाई उपस्थित थे।
डायरैक्टर खाद्य एवं सिविल सप्लाई, विभाग श्रीमती अनिंदिता मित्रा ने इस मौके पर सलाहकार ग्रुप को लॉकडाउन के दौरान खाद्य एवं सिविल सप्लाई विभाग, पंजाब द्वारा मुख्यमंत्री पंजाब कैप्टन अमरिन्दर सिंह जी के दिशा-निर्देशों के अनुसार किए गए अनाज के वितरण के बारे में अवगत करवाया और आगामी वितरण प्रबंधों बारे भी जानकारी दी, जिस पर सलाहकार ग्रुप ने विभाग द्वारा पुख्ता वितरण की भरपूर प्रशंसा की।
स्मार्ट कार्ड बनाने संबंधी ठेका हासिल करने वाली कंपनी के अधिकारियों द्वारा इस मौके पर चिप वाले स्मार्ट कार्ड संबंधी प्रस्तुति पेश करते हुए बताया गया कि कंपनी द्वारा कार्डधारकों की जानकारी पूरी तरह सुरक्षित रखी जाती है, जिसे कोई चोरी नहीं कर सकता। उन्होंने बताया कि कंपनी रोजाना कम-से-कम 65 हजार स्मार्ट कार्ड बनाकर विभाग को देगी। कंपनी के नुमायंदों ने इस मौके पर सलाहकार ग्रुप की स्मार्ट कार्ड संबंधी शंकाओं को भी दूर किया। उन्होंने यह भी कहा कि कार्ड बनाने संबंधी डेटा प्राप्त होने पर तीसरे दिन संबंधित इलाके और कार्यालय में कार्ड बनकर पहुँच जाएंगे।

About admin

Check Also

युवक को गोली मारने वाला आरोपी गिरफ्तार ,घटना में प्रयुक्त तमंचा भी हुआ बरामद।

रिपोर्ट:औरैया संवाददाता क्रासर — 25 जुलाई की रात गांव के ही एक युवक को मारी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *