Breaking News
Home / Banner / आवारा पशुओं के प्रबंधन को लेकर मुरेना मेंआंदोलन करेगी सीपीएम

आवारा पशुओं के प्रबंधन को लेकर मुरेना मेंआंदोलन करेगी सीपीएम

आनन्द त्रिवेदी

सरसों और गेहूँ की सही कीमत ,बिजली के निजीकरण और आवारा गौवंश की व्यवस्था करने की मांगों को लेकर सीपीएम जिले में एक बड़ा आंदोलन शुरू करने की तैयारी में जुटी है ।प्रदेश के सीपीएम नेता बादल सरोज ने इस आंदोलन की तैयारी के सिलसिले में अपनी पार्टी से जुड़े किसान नेताओं के साथ बैठकों का दौर शुरू किया है।
आवारा गौबंश आज किसानों के लिए एक बड़ी समस्या बन गया है पहले गांवों में इनका कृषि कार्यों में उपयोग होता था लेकिन आज ये अनुपयोगी है भाजपा के गौवंश प्रेम के चलते इन्हें बेचना भी सम्भव नही रहा है गायों के लिए थोड़ी सी गौशालाएं हैं सरकार भी गौशालाओं को थोड़ा बहुत फ़ंड देती है लेकिन ढूध न देने बाली और बूढ़ी बीमार गायों सांड़ और बछड़ों के लिए कोई ठौर ठिकाना नही है बड़ी तादाद में ये आवारा जानवर इस समय खेतों में खड़ी गेंहू चना और सरसों की कीमती फसलों को नुकसान पहुचा रहे हैं ।इनसे फसलों को बचाना एक बड़ी समस्या है 24 घण्टे निगरानी के बाद भी इनके झुंड खेतो पर टूट पड़ते हैं
तीन महीने से किसान इन जानवरों का प्रबंध करने को लेकर आंदोलन कर रहे हैं दिसम्बर में आसपास के गांवों में घूम रहे सैकड़ों जानवरों को किसानों ने तहसील कार्यालय में इकट्ठा करके उनके प्रबन्धन की मांग की थी तब प्रशासन ने जल्दी ही उनकी व्यबस्था का आश्वासन दिया था ।इसके बाद तीन बार और धरना प्रदर्शनों के बाद कलक्टर और जिला पंचायत स्तर पर आश्वसनो के कागज भर मिले हैं ठोस कुछ नही हुआ ।
इसी तरह फसलों के मूल्य की समस्या है सीपीएम का कहना है कि सरकार ने डेढ़ गुना मूल्य देने का वायदा किसानों से किया था इसलिए उसे गेंहू की खरीद न्यूनतम समर्थन मूल्य से डेढ़ गुने मूल्य पर शुरू करना चाहिए भावन्तर जैसे शिगूफे वह बन्द करे और किसान को गेंहू सरसों का समर्थन मूल्य से ड्योढ़ा मूल्य चुकाए ।
किसानों को मुफ्त बिजली देने का वायदा करके शिवराज सरकार ने मुरेना के कई इलाकों में बिजली की आपूर्ति और बसूली निजीक्षेत्र को दे दी है जो प्रीपेड मीटर से बिजली दे रहे हैं जितना रिचार्ज होता है उतनी बिजली जलती है नही तो घर कभी भी अंधेरे मेँ डूब जाता है सी पी एम शुरू से ही इस निजी करण का विरोध कर रही है। पार्टी के नेता बादल सरोज का कहना है कि इन तीन समस्याओं को लेकर सीपीएम का एक बड़ा आंदोलनइसी महीने यहां की तहसील कैलारस से शुरू होकर जिला मुख्यालय तक पहुंचेगा। इसमें सीपीएम के बड़े नेता भी भाग लेंगे।

About admin

Check Also

छापा मारकर पुलिस ने बरामद की 4 पेटी वियर

रिपोर्ट – अमित चतुर्वेदी औरैयादिबियापुर (औरैया) । बुधवार की देर शाम हरचंदपुर चौकी क्षेत्र के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *