Breaking News
Home / देश / माथुर वैश्य समाज करेगा दस हजार यूनिट रक्तदान

माथुर वैश्य समाज करेगा दस हजार यूनिट रक्तदान

 

श्रीगोपाल गुप्ता  

अखिल भारतीय माथुर वैश्य महासभा (समाज) इस वर्ष भी चतुर्थ राष्ट्रीय रक्तदान शिविर का आयोजन कर रहा है! साल में प्रत्येक एक बार, एक ही दिन में देश के विभिन्न शहरों में आयोजित होने वाला यह ‘रक्तदान समाज के लिए महत्वपूर्ण संकल्प और महापर्व है! देश की राजधानी दिल्ली व देश के 13 राज्यों की राजधानियों सहित 93 शहरों में अगामी 30 जून रविवार को आयोजित चतुर्थ राष्ट्रीय रक्तदान शिविर सभी जगहों पर एक ही समय पर शुरु होकर एक ही समय पर सपन्न होंगे! अखिल भारतीय माथुर वैश्य महासभा के महामंत्री श्री कुलदीप गुप्ता और वरिष्ठ मंत्री श्री दिलीप गिदोलिया के अनुसार इस मर्तबा दस हजार यूनिट रक्तदान का लक्ष्य तय किया है जो अभी तक समाज के बंधूओं द्वारा स्वैच्छिक रक्तदान के लिये दिये गये फार्मों को देखते हुये आसान लग रहा है! देश के स्वास्थ मंत्रालय की एक रिपोर्ट के अनुसार देश में 100 प्रतिशत रक्त की जरुरत वाले मरीजों में 75% मरीजों को ही रक्त मिल पाता है! बाकी 25% प्रतिशत मरीज रक्त के अभाव में अपनी जान से हाथ धो बेठते हैं! हिन्दुस्तान की कुल आबादी का एक प्रतिशत भी जनमानस रक्तदान नहीं करता है! इस स्थिति को माथुर वैश्य समाज के रत्न और बैंगलुरु निवासी स्व. प्रदीप पैंगोरिया जी ने सन् 2016 में समझा और उन्होने समाज बंधूओं का एक ग्रुप बनाकर पहली मर्तबा 17 अप्रैल 2016 में राष्ट्रव्यापी प्रथम राष्ट्रीय रक्तदान शिविर का आयोजन किया! उनकी और उनकी टीम की कोशीश काफी सफल रही और अखिल भारतीय माथुर वैश्य महासभा के सहयोग से रक्तदान शिविर में हजारों यूनिट बोतल का दान हुआ!

इसका एक दुःखद पक्ष यह है कि प्रदीप जी के आव्हान पर देश के माथुर वैश्य बड़ी संख्या में उत्साह के बढ़चढ़ करके रक्तदान कर रहे थे तो उसी समय प्रदीप जी हाॅस्पीटल में अपनी लाईलाज बीमारी कैंसर का आॅपरेशन करा रहे थे! अंततः वे कैंसर से हार गये और 2 दिसम्बर 2016 में इस संसार गमन कर गये! मगर उनके बताये मार्ग पर लगातार चौथे वर्ष देश के समस्त माथुर वैश्य आज भी चल रहे हैं और किसी अनजान की जान बचाने के लिये पूरे जोश-खरोश के साथ रक्तदान कर रहे हैं! इनमें 18 के बेटे-बेटियां, युवा तरणांई और 60-60 वर्ष के वरिष्ठ नागरीक भी शामिल हैं। देश के लिए गर्व की बात है कि वाराणसी, मुरादाबाद और भोपाल में माथुर वैश्य समाज के द्वारा आयोजित रक्तदान शिविर में जाति-पांति दीवाल तोड़कर अनेक मुस्लिम भाइयों ने भी रक्तदान किया था! वाराणसी रक्तदान शिविर के सह सयोंजक गौरव गुप्ता ने बताया कि इस वर्ष भी बड़ी संख्या में मुस्लिम भाइयों रक्तदान करने के लिए फार्म भरकर जमा करा दिये हैं वहीं राजस्थान में मंडलाध्यक्ष श्री मनीष गुप्ता के प्रयासों अखिल भारतीय वैश्य महासम्मेलन ने अपनी जिला ईकाइयों को पत्र लिखकर आदेशित किया है कि जहां-जहां शिविर आयोजित हो रहे हैं वहां-वहां पूरे उत्साह के वैश्य समाज से ज्यादा से ज्यादा रक्तदान कराया जाये! सबसे ज्यादा 17 रक्तदान शिविर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में मंध्याचल मण्डल में आयोजित किये गये हैं! मुरैना में भी अगामी रविवार 30 जून को शाखा-सभा के अन्तर्गत शिविर प्रभारी श्री दीपक गुप्ता के नेतृत्व में जिला अस्पताल में रक्तदान महोत्सव का आयोजन किया गया है!महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष रघुनाथ प्रसाद गुप्ता ने देश के माथुर वैश्य समाज से अधिक से अधिक रक्तदान करने की अपील की है!

About Unique Today

Check Also

समय बड़ा बलवान है :: रौब के दौर में गाड़ी की आगे की सीट पर बैठते थे चिदंबरम, आज यूं दिखे लाचार

जब पी चिदंबरम देश के गृह मंत्री और वित्त मंत्री थे तब वह पूरे रौब …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *