Breaking News
Home / देश / प्रधान मंत्री मोदी की पसंदीदा टीम-A

प्रधान मंत्री मोदी की पसंदीदा टीम-A

पीएम नरेंद्र मोदी को नौकरशाही से बेहतर तालमेल के लिए जाना जाता रहा है। गुजरात में सीएम के तौर पर उनका लंबा कार्यकाल रहा हो या फिर पीएम के तौर पर पिछले 5 साल का वक्त, उन्होंने हमेशा अधिकारियों को प्राथमिकता पर रखा है। आइए जानते हैं, पीएम मोदी के दूसरे कार्यकाल में साउथ ब्लॉक में उनकी ए-टीम के बारे में…

पीएम मोदी की पुरानी पसंद हैं नृपेंद्र मिश्र
यूपी कैडर के 1967 बैच के आईएएस ऑफिसर नृपेंद्र मिश्र पीएमओ के सबसे बड़े अधिकारी हैं और उन्हें कैबिनेट रैंक दी गई है। पीएम के प्रिंसिपल सेक्रटरी के तौर पर मोदी की ज्यादातर पसंदीदा स्कीमों की वह निगरानी करते हैं। पहले कार्यकाल से ही नृपेंद्र मिश्र पीएम नरेंद्र मोदी के पसंदीदा अधिकारी हैं। पीएमओ से मंत्रालयों और राज्य सरकार के बीच तालमेल की वह अहम कड़ी हैं। हार्वर्ड केनेडी स्कूल ऑफ गवर्नमेंट और इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के छात्र रहे नृपेंद्र मिश्र नौकरशाही के साथ ही राजनीति की भी जरूरी समझ रखते हैं।
पीके’ के तौर पर चर्चित हैं पीके मिश्र
गुजरात कैडर के 1972 बैच के आईएएस अधिकारी पीके मिश्र को कैबिनेट रैंक का दर्जा देते हुए दूसरे कार्यकाल में भी पीएम मोदी का अतिरिक्त प्रधान सचिव बनाए रखा गया है। नीतिगत मुद्दों पर उनकी राय को अहम माना जाता है। इसके अलावा अहम पदों पर उम्मीदवारों की शॉर्टलिस्टिंग का काम भी वह करते हैं। कैबिनेट सचिवालय के साथ समन्वय और प्रशासनिक सुधारों में उनका दखल रहा है। लाइमलाइट से दूर रहने वाले शख्स के तौर पर उनकी पहचान रही है। वह पीएमओ और ब्यूरोक्रेसी के बीच कड़ी के तौर पर काम करते हैं। पूर्व में कृषि सचिव रहे मिश्र आपदा प्रबंधन में जुटी एजेंसियों की बैठकें लेते हैं और फसल बीमा जैसी स्कीमों पर निगरानी रखते हैं। इकॉनमिक्स में पीएचडी धारक मिश्र वर्ल्ड बैंक के अडवाइजरी ग्रुप में भी हैं।

संकटमोचक कहे जाते हैं अजित डोभाल
राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल 2004-05 में आईबी के निदेशक भी रहे हैं। 74 वर्षीय डोभाल पीएम मोदी के पहले कार्यकाल में भी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार थे। एक इंटेलिजेंस ऑफिसर के तौर पर वह खुद उदाहरण पेश करते रहे हैं। मिजोरम और पंजाब में उन्होंने कई मिशनों का नेतृत्व किया है। सर्जिकल स्ट्राइक से लेकर बालाकोट की एयरस्ट्राइक जैसे अहम फैसलों में उनकी भागीदारी रही है। पीएम मोदी की सुरक्षा को लेकर मजबूत नेता के तौर पर पहचान है और इसके लिए नेपथ्य में रहकर काम करने वाले शख्स अजित डोभाल हैं।

About Unique Today

Check Also

देश के रक्तदाताओं के भी आईकाॅन हैं, हमारे बीरजू भाई

देश के रक्तदाताओं के भी आईकाॅन हैं, हमारे बीरजू भाई श्रीगोपाल गुप्ता महासभा द्वारा अगामी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *